….. तो दे दो विधान परिषद् की छह सीटें….. तेजप्रताप के संगठन ने राजद से रखी मांग

paxlovid price germany बिहार में 24 सीटों पर बिहार विधान परिषद् चुनाव होने वाले हैं। इसको लेकर महागठबंधन के अंदर कांग्रेस और राजद के बीच तनातनी है। राजद 24 सीटों में से लगभग 18 सीटों पर राजद चुनाव लड़ सकती है। लेकिन अब राजद के लिए नई मुसीबत लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव के संगठन छात्र जनशक्ति परिषद ने खड़ी कर दी है। छात्र जनशक्ति परिषद् ने अपनी मांग राजद के सामने रख दी है। तेजप्रता प्रताप यादव छात्र जनशक्ति परिषद् के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं।

paxlovid buy australia Oxnard Shores छात्र जनशक्ति परिषद बिहार प्रदेश के अध्यक्ष प्रशांत प्रताप यादव ने कहा है कि समाज के संघर्ष और विकास में छात्र युवाओं की मुख्य भूमिका होती है, प्रदेश के अधिकतम छात्र- युवा छात्र जनशक्ति परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेज प्रताप यादव के साथ हैं इसलिए राजद के द्वारा कम से कम 25% सीटों पर उम्मीदवार के चयन के लिए तेज प्रताप यादव को अधिकृत करना चाहिए।अगर राजद विधान परिषद के 6 सीट छात्र जनशक्ति परिषद को देती है तो छात्र जनशक्ति परिषद का पूर्ण समर्थन राजद के सभी उम्मीदवार के साथ होगा। प्रशांत प्रताप ने यह भी कहा कि इस बात का ख़्याल रखा जाए कि श्रीकृष्ण के बिना जीतना असम्भव है। इसका प्रमाण बीतें विधानसभा के उपचुनाव का परिणाम है।

buy paxlovid tablets Leposaviq तेज प्रताप यादव के राजनैतिक हैसियत पर जदयू प्रवक्ता अभिषेक झा के द्वारा दिए बयान पर पलटवार करते हुए छात्र जनशक्ति परिषद के प्रदेश अध्यक्ष प्रशांत प्रताप यादव ने कहा कि तेज प्रताप यादव अपने सिद्धांतों से समझौता के लिए तैयार नहीं हैं, नहीं तो आपके नेता कब से तेज प्रताप जी को उपमुख्यमंत्री बनाने के लिए तैयार हैं।

paxlovid and medication interactions बता दें कि बिहार में तारापुर और कुशेश्वर स्थान के उपचनाव में राजद की हार हुई थी जबकि इस उपचुनाव में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद सहित नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सभाएं की थीं। उस समय छात्र जनशक्ति परिषद् से जुड़े संजय यादव तारापुर से चुनाव लड़ने चले गए थे। बाद में उन्हें मनाया गया और उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया। उपचुनाव में तेजप्रताप यादव को चुनाव प्रचार में नहीं जाने दिया गया था।

Paraipaba paxlovid prescription by pharmacist तेजप्रताप यादव ने एक बार दिनकर की रश्मिरथी की पंक्तियां ट्वीट कर कही थीं-  तो दे दो केवल पांच ग्राम, रखो अपनी धरती तमाम…।

Leave a Comment