पत्रकार राजेश कुमार की कोरोना से मौत

stromectol uk pharmacy Corcoran पटना.
पत्रकार राजेश कुमार नहीं रहे। वे दैनिक भास्कर डिजिटल में डेस्क हेड थे। वे पिछले लगभग डेढ़ माह से नेता जी सुभाष मेडिकल कॉलेज एंड हास्पिटल, बिहटा में भर्ती थे। अप्रैल माह में वे कोरोना पॉजिटिव हो गए थे जिसके बाद 7 मई को अस्पताल में भर्ती हुए। वे अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव भी हो गए, लेकिन स्थिति संभलने के बजाय बिगड़ती चली गई। 15 जून की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ले ली।

साल 2000 में उन्होंने पटना से प्रकाशित दैनिक हिन्दुस्तान में संवाद सूत्र से पत्रकारिता की शुरुआत की थी। वहां आर्थिक और खेल पेज पर कार्य किया। हिन्दुस्तान डिजिटल में भी वे रहे। सितंबर 2020 में दैनिक भास्कर डिजिटल ज्वाइन किया और अंत तक यहीं रहे। वे अपने पीछे पत्नी और दो छोटे-छोटे बच्चे छोड़ गए। वरिष्ठ पत्रकार डॉ. लक्ष्मीकांत सजल ने कहा कि राजेश कुमार बहुत ही विनम्र, अनुशासन प्रिय, मिलनसार और सबसे बढ़कर कर्तव्यनिष्ठ थे। उनमें सीखने की ललक थी।