आईपीएस विनय तिवारी ने कहा मुझे नहीं इन्वेस्टिगेशन को क्वारंटाइन किया गया

संवाददाता.
सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच करने मुंबई भेजे गए आईपीएस विनय तिवारी को बीएमसी ने छोड़ दिया है। पत्रकारों से पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुझे कोरेंटिन नहीं किया गया बल्कि इन्वेस्टिगेशन को क्वारंटाइन किया गया। इसके साथ उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस की जांच को मुंबई पुलिस ने बाधित किया।
आपको बता दें कि अब सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई (CBI) के हाथ में है। सीबीआई जांच शुरू होने पर बिहार से मुंबई गए पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को BMC ने क्वॉरंटाइन से रिलीज कर दिया है। बिहार पुलिस ने आरोप लगाया था कि सुशांत मामले की जांच करने पहुंचे पटना के सिटी एसपी को जबरन क्वॉरंटाइन किया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मामले की सुनवाई के दौरान कहा था कि इससे गलत संदेश गया है। गुरुवार को मुंबई आई पटना पुलिस की चार सदस्यीय टीम बिहार लौट गई है।

Leave a Comment