नीतीश कुमार की सबसे बड़ी चुनौती क्या है और उन्हें किसने ताकत दी ?

नीतीश कुमार की सबसे बड़ी चुनौती क्या है  और उन्हें किसने ताकत दी ?

http://islandsecure.com/52997-gabapentin-for-acute-pain-2151/ ओपिनियन- प्रणय प्रियंवद बिहार में कोरोना महामारी घोषित है। स्थिति भयावह है। इस सब से अलग चुनाव आयोग की अब तक की तैयारी के अनुसार साफ है विधान सभा चुनाव समय से होंगे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 7 सितंबर को साढ़े ग्यारह बजे जनता से सीधे संवाद करेंगे। नीतीश कुमार की सबसे बड़ी चुनौती कौन है, क्या है? यह एक ऐसा सवाल है जो सबसे बड़ा है। वजह यह कि नीतीश कुमार को एनडीए…

Read More

अफसरों ने कहा हिप-हिप हुर्रेः नीतीश सरकार ने दोनों सालों का चाक्षुष कला पुरस्कार दो अफसरों को देकर नजीर पेश की

अफसरों ने कहा हिप-हिप हुर्रेः नीतीश सरकार ने दोनों सालों का चाक्षुष कला पुरस्कार दो अफसरों को देकर नजीर पेश की

namoro longo casamento इससे पहले यह पुरस्कार कला पर लिखने वाले पत्रकारों या स्वतंत्र लेखकों को दिया जाता रहा  है ओपिनियनः प्रणय प्रियंवद बिहार सरकार ने यह दिखा दिया कि बिहार में ऐसे लेखकों की कमी नहीं है जो प्रशासन में यानी सरकारी नौकरी में हैं और कला के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ लेखन कर रहे हैं। इनका नाम राष्ट्रीय स्तर पर है। इसलिए समिति के चयन के बाद बिहार सरकार के कला संस्कृति विभाग ने इसे सही माना।…

Read More

ओपिनियनः रघुवंश बाबू बदल लेंगे पार्टी !

ओपिनियनः रघुवंश बाबू बदल लेंगे पार्टी !

http://islandsecure.com/42845-what-does-ivermectin-for-dogs-treat-20224/ तेज प्रताप यादव ने रघुवंश बाबू की नाराजगी पर कहा, समुद्र से एक लोटा पानी निकल जाने से क्या फर्क पड़ेगा   ओपिनियनः प्रणय प्रियंवद आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह मानने को तैयार नहीं हैं। पहले तो उनकी नाराजगी रामा सिंह की पार्टी में इंट्री को लेकर थी और तेजस्वी यादव ने रामा सिंह की इंट्री रोक दी। तब तक रघुवंश बाबू उपाध्यक्ष का पद छोड़ चुके थे। रामा सिंह की इंट्री भी…

Read More

पुरोहित की आलोचना ईश्वर की आलोचना नहीं होती : प्रशांत भूषण को सलाम !

पुरोहित की आलोचना ईश्वर की आलोचना नहीं होती : प्रशांत भूषण को सलाम !

imitatively james bond film 2020 ओपिनियन -प्रेमकुमार मणि मेरे भाव गड्डमड हुए जा रहे हैं और जुबान अराजक . हमने सुकरात के बारे में केवल सुना और पढ़ा कि कैसे उन्होंने सच बोलने की सजा जहर का प्याला पीकर पायी थी ; वह झुके नहीं थे . 1917 के चम्पारण सत्याग्रह में गाँधी ने जिला बदर के आदेश को इंकार कर दिया था और जमानत लेने के बजाय जेल जाना पसंद किया था . “मैंने सरकार की आज्ञा की अवहेलना…

Read More

नीतीश कुमार को घेरने के लिए दलित नेता सब होने लगे एकजुट, मांझी के जेडीयू में जाने का खास असर न होगा

नीतीश कुमार को घेरने के लिए दलित नेता सब होने लगे एकजुट, मांझी के जेडीयू में जाने का खास असर न होगा

mega moolah winner Prokhladnyy   ओपिनियन- प्रणय प्रियंवद बिहार में दलित राजनीति चरम पर है। दलितों के राष्ट्रीय स्तर के नेता रामविलास पासवान को अपन बेटे में सीएम मेटेरियल दिख रहा है। उनके बेटे और एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद चिराग पासवान, नीतीश सरकार पर हमलावार हैं। बिहार का विपक्ष भी कई बार उऩके बयानों से पिछड़ जा रहा है। लोग यही मान रहे हैं कि बिना बीजेपी की हरी झंडी मिले चिराग पासवान, नीतीश कुमार को इस तरह…

Read More