खुशखबरीः शिक्षा मंत्री की घोषणा विश्वविद्यालय में अतिथि शिक्षकों को प्रति माह मिलेंगे 50 हजार रुपए

blackjack sites for real money पटना.

indian dreaming free pokies histologically राज्य के विश्वविद्यालयों में अब अतिथि शिक्षकों को प्रतिमाह 50 हजार रुपए मिलेंगे। एक महिने में इसे लागू कर दिया जाएगा। सोमवार को शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधान परिषद में एक सवाल के जवाब में यह कहा। वे जदयू के वीरेंद्र नारायण यादव के ध्यानाकर्षक पर बोल रहे थे। मंत्री ने कहा कि अतिथि शिक्षकों को उनकी मांग के अनुरूप यूजीसी के प्रावधानों के अनुरूप ही राशि मिलेगी।

http://iisasl.com/31308-gabapentin-for-bipolar-depression-65692/ मंत्री ने कहा-प्रति दिन कक्षा 1500 रुपए दिए जाएंगे। विभाग इसकी तैयारी कर रहा है। अभी अतिथि शिक्षक को प्रतिमाह 25 हजार रुपए मिल रहे हैं। प्रतिदिन प्रतिकक्षा एक हजार रुपए अभी देने का प्रावधान है।

Kapsan-ŭp roulette dbd https://mscconsignment.com/18-cat/casino_45.html वित्त रहित माध्यमिक और इंटर कॉलेजों के शिक्षकों व कर्मियों के वेतन के लिए 842 करोड़ रुपए

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि अनुदानित माध्यमिक और इंटर कॉलेजों के शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मियों के वेतन भुगतान के लिए 8 अरब 42 करोड़ रुपए उपलब्ध कराने का प्रस्ताव है। कैबिनेट से राशि स्वीकृति होने के बाद वर्तमान वित्तीय वर्ष में ही बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को उपलब्ध करा दिया जाएगा।

वे विधान परिषद में मदन मोहन झा के ध्यानाकर्षण पर जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि इस राशि से माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मियों को सत्र 2017-19 तक तथा उच्च माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मियों को शैक्षणिक सत्र 2015-17 तक के लिए भुगतान किया जाएगा। राशि के भुगतान के पहले अनुदान की पात्रता की भी जांच होगी। सदस्यों ने कहा कि जांच के नाम पर अधिकारी मामले को लटका देते हैं। पार्षद संजीव कुमार सिंह ने कहा कि अफसरों ने गलत जवाब तैयार किया है। आखिर कितनी बार जांच होगी। उन्होंने इससे जुड़ी कई बातों को देर तक स्पष्ट किया। पार्षद नवल किशोर यादव, संजीव श्याम सिंह आदि कई पार्षदों ने इस पर अपनी बात रखी।

शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने कहा कि पदाधिकारियों को बहानेबाजी का मौका नहीं दिया जाएगा। उस समय विधान परिषद मेें प्राथमिक शिक्षा के निदेशक रंजीत कुमार सिंह भी मौजूद थे।

You https://www.affordable-papers.net/ can even get them online.

Leave a Comment